सभी याचियों के "प्रशिक्षु शिक्षक" के रूप में ट्रेनिंग का शासनादेश जारी : मयंक तिवारी

सर्वप्रथम गंगा यमुना सरस्वती की इस पावन भूमि को नमन व् आज यहाँ उपस्तिथि हुए सभी साथियों का आभार। इस कड़ाके की शर्दी में और आचार संहिता लागू हो जाने के बाद भी आज जिस जोश के साथ आप सभी साथी यहाँ इलाहाबाद के शिक्षा निदेशालय में एकत्रित हुए उसने एक बार पुनः स्पस्ट कर दिया है कि "यह कभी हार ना मानने वाला संगठन है" जो अपने परम् पवित्र उद्देश्य प्राप्ति के बाद ही विश्राम लेगा।

लखनऊ से 4जनवरी को निदेशक एस सी ई आर टी द्वारा सचिव बेसिक शिक्षा परिषद् इलाहाबाद के नामित भेजा गया पत्र कल ही यहाँ इलाहाबाद पहुँच गया था। पत्रानुसार संजय सिन्हा जी को उस पर अपनी रॉय लगाकर वापस शासन को भेजना है। आज पूरा दिन संजय सिन्हा जी परिषद् में उपस्तिथि नही हुए किन्तु विभागीय सुचना के अनुसार उन्हें पत्र प्राप्त हो चुका है जिस पर रिपोर्ट लगाने के लिए उन्होंने दो दिन का समय माँगा है।
अतः आप सभी साथियों से निवेदन है कि जो इलाहाबाद के आस-पास से है वह आज की भांति कल भी (06/01/17) शांति पूर्वक निदेशालय में बने रहें।
वर्तमान प्रक्रिया के अनुसार आप सभी को अवगत करा दें कि "यहाँ से जैसे ही रिपोर्ट लग कर वापस शासन को जायेगी हमारी लखनऊ में काम देख रही टीम प्रमुख सचिव से मिलकर आपकी ट्रेनिंग हेतु शासनादेश जारी कराने का प्रयास करेगी और यदि प्रभु की कृपा से यह कार्य पूर्ण हुआ तो फिर पुनः संजय सिन्हा जी द्वारा आप सभी याचियों के "प्रशिक्षु शिक्षक" के रूप में ट्रेनिंग का शासनादेश जारी करा दिया जायेगा।
दोस्तों, अब सफलता बहुत करीब है। आपके लिए रात दिन कार्य कर रहे साथियों के मनोबल को बढ़ाने व् उनके साथ हेतु अपने हिस्से का सहयोग देते रहें व् ईश्वर से प्रार्थना करें कि वह हमें शक्ति दे, आशीर्वाद दे ताकि हम इस असंभव दिखने वाले लक्ष्य को प्राप्त कर सकें।
आप सभी के प्यार, स्नेह, और आशीष की आकांक्षा में
आपका मयंक तिवारी
बीएड/टेट उत्तीर्ण संघर्ष मोर्चा
उत्तर प्रदेश
sponsored links:
ख़बरें अब तक - 72825 प्रशिक्षु शिक्षकों की भर्ती - Today's Headlines

No comments :

Post a Comment

Big Breaking

Breaking News This week