सहारनपुर, मुजफ्फरनगर के शिक्षक करेंगे शामली में ड्यूटी

शामली। मुजफ्फरनगर जिले के चरथावल और सहारनपुर जिले के ननौता ब्लाक के शिक्षक जिले में 11 फरवरी को होने वाले विधानसभा चुनाव को संपन्न कराएंगे। विधानसभा चुनाव संपन्न कराने के लिए जिले में 500 से ज्यादा कर्मचारियों की कमी पड़ रही है।
डीएम सुजीत कुमार सिंह ने मंडलायुक्त से चुनाव संपन्न कराने के लिए कर्मचारियों की मांग की थी। जिस पर मंडलायुक्त एमपी अग्रवाल ने सहारनपुर जिले के ननौता और मुजफ्फरनगर जिले के चरथावल ब्लाक के शिक्षकों की ड्यूटी शामली में लगाने के निर्देश दिए हैं। डीएम ने बताया कि जिले में 6700 कर्मचारी हैं। विधानसभा चुनाव संपन्न कराने के लिए 5000 कर्मचारियों की आवश्यकता है।

जिसमें से कुल मतदान कर्मचारियों का तीस प्रतिशत रिजर्व में रखा जाता है। विकलांग, गर्भवती महिला एवं बीमार कर्मचारी की ड्यूटी काट दी जाती है। ऐसे में करीब 700 कर्मचारियों अलग से लगाया जाता है। मंडलायुक्त मुजफ्फरनगर और सहारनपुर जिले के कर्मचारियों की ड्यूटी शामली में लगाने के निर्देश दिए हैं।

24 घंटे विधानसभा क्षेत्र में   ही रहेंगे चुनाव प्रेक्षक

शामली। चुनाव प्रक्रिया पर पैनी नजर रखने के लिए जिले की हर विधानसभा में प्रेक्षकों की तैनाती होगी। विधानसभा मुख्यालय पर ही प्रेक्षकों के रहने की व्यवस्था होगी।

डीएम ने मंगलवार को एडीएम भरत पांडेय को साथ लेकर थानाभवन, कैैराना, शामली विधानसभा क्षेत्रों के मुख्यालयों पर निरीक्षण भवन एवं गेस्ट हाउस का दौरा किया। उन्होंने बताया कि शामली विधानसभा का चुनाव प्रेक्षक बनत लोक निर्माण विभाग के निरीक्षण भवन, थानाभवन विधानसभा में चीनी मिल के गेस्ट हाउस अथवा नगर पंचायत के गेस्ट हाउस में रुकने की व्यवस्था होगी। कैैैराना विधानसभा में कैराना लोक निर्माण विभाग के गेस्ट हाउस का निरीक्षण करके स्थान चयन कर लिया जाएगा।

विस व्यय प्रेक्षक के रूप में उप्र शासन ने शंभू यादव की तैनाती कर दी है। जिले में सभी चुनाव प्रेक्षक 17 जनवरी को जिला मुख्यालय पर मौजूद रहेंगे। चुनाव प्रेक्षक की मौजूदगी में नामांकन प्रक्रिया पूरी होगी।
sponsored links:
ख़बरें अब तक - 72825 प्रशिक्षु शिक्षकों की भर्ती - Today's Headlines

No comments :

Post a Comment