शिक्षकों का तबादला कराने को लेकर शिक्षक लामबंद , शिक्षकों का दूसरा गुट देगा धरना : बिजनौर

ब्यूरो/अमर उजाला, बिजनौर बिजनौर में परिषदीय स्कूलों में शिक्षकों का तबादला कराने को लेकर आदर्श समायोजित शिक्षक वेलफेयर एसोसिएशन ने बीएसए कार्यालय पर धरना दिया और बीएसए से शिक्षकों को तबादला कराने की मांग की। धरने के बाद शिक्षक डीएम और सीडीओ से भी मिले।
मंगलवार को आदर्श समायोजित शिक्षक वेलफेयर एसोसिएशन के जिलाध्यक्ष सुधीर कुमार चौहान, महामंत्री मोहम्मद वाइज व जिला कोषाध्यक्ष जयवीर सिंह के नेतृत्व में तबादला चाहने वाले शिक्षकों ने बीएसए कार्यालय पर धरना दिया तथा बीएसए से शिक्षकों का तबादला कराने की मांग की। जिले में करीब तीन हजार शिक्षकों ने तबादले के लिए अर्जी लगाई है। कई दिन से चल रही मशक्कत के बाद भी अभी तक शिक्षकों का तबादला नहीं हुआ है। धरनास्थल पर प्रांतीय प्रभारी सौरभ चौधरी ने शिक्षकों की समस्याओं को देखते हुए तबादला कराने की मांग की। धरनास्थल पर पहुंचे बीएसए महेश चंद्र ने शिक्षकों को बताया कि तबादले के लिए आए आवेदन पत्रों की फीडिंग कराई जा रही है तथा प्रक्रिया से उच्च अधिकारियों को अवगत करा दिया जाएगा। धरनास्थल पर संजीव कुमार, अनिल कुमार, जगवीर सिंह, मंजू सैनी, अंजलि, ओमकार सिंह, सहित कई समायोजित होने वाले शिक्षक मौजूद रहे। धरनास्थल के बाद शिक्षक तबादलों को लेकर सीडीओ व डीएम कार्यालय पहुंच कर उन्हें भी तबादला कराने के लिए मांगपत्र सौंपा। जिलाध्यक्ष सुधीर कुमार चौहान ने बताया कि बाद में शिक्षकों ने सपा कार्यालय पहुंच कर सपा के जिला महासचिव को भी मांग पत्र सौंपा है।
आज शिक्षकों का दूसरा गुट देगा धरना ः शिक्षकों का तबादला कराने को लेकर शिक्षक लामबंद होने शुरू हो गए हैं। मंगलवार को उप्र प्राथमिक शिक्षा मित्र संघ की चौधरीपुरम में आयोजित बैठक में 28 दिसंबर को बीएसए कार्यालय पर धरना देने का निर्णय लिया गया। पश्चिमी उप्र के प्रांतीय प्रभारी सुचित मलिक ने कहा कि संघ ने बीएसए से 27 दिसंबर तक शिक्षकों का तबादला करने की मांग की थी तथा शिक्षकों की मांग पूरी नहीं हुई है जिसे लेकर अब संघ 28 दिसंबर को बीएसए कार्यालय पर धरना देंगे। बैठक में पोपेंद्र सिंह, ओमपाल सिंह, सचिन, दीपक राजपूत, धर्मेंद्र सिंह आदि ने विचार रखे।
sponsored links:
ख़बरें अब तक - 72825 प्रशिक्षु शिक्षकों की भर्ती - Today's Headlines

No comments :

Post a Comment

ख़बरें अब तक