आज केस को एक जज द्वारा सुनने से इंकार कर देना था पूर्व नियोजित प्लान : आर के पाण्डेय एडवोकेट

पिछले एक हफ्ते से जो भी अचयनित याची साथी मेरे कार्यालय पर अथवा मीटिंग में मिले थे उनको मैंने स्पष्ट तौर पर बताया था कि अपना केस डबल बेंच का है

अतः बिना चीफ जस्टिस के विशिष्ट डायरेक्शन के ट्रिपल बेंच में सुना जाना संभव नही है क्योंकि अभी लीगल ज्यूरिस्डिक्शन डबल बेंच का ही है फिर भी बिना किसी कारण अचानक ट्रिपल बेंच गठित होना अप्रत्याशित था फिर भी पूरी तैयारी के साथ कोर्ट में पैरवी जरूरी थी क्योंकि घटनाएं तेजी से बदल रही थीं
आज केस को एक जज द्वारा सुनने से इंकार कर देना उपरोक्त का ही पूर्व नियोजित प्लान था
अब केस के हियरिंग के लिए चीफ जस्टिस जी कोई नई बेंच गठित करेंगे तभी नई डेट भी तय होगी जोकि अगले सात दिनों के अंदर तय हो जाएगा
जो अचयनित याची ऐक्टिव सहयोगी साथी मेरी लिस्ट में हैं और इस बार आज 22 फरवरी के सुनवाई के लिए अपना सहयोग कर चुके हैं उन्हें अब भविष्य में भी किसी भी डेट पर पैरवी के लिए कोई भी आर्थिक सहयोग नही करना है मैं उन साथियों के लिए पूरी मजबूती से सफल पैरवी करूंगा
आर के पाण्डेय एडवोकेट
sponsored links:
ख़बरें अब तक - 72825 प्रशिक्षु शिक्षकों की भर्ती - Today's Headlines

No comments :

Post a Comment

Big Breaking

Breaking News This week