UPTET शिक्षामित्रों से लेकर बीएड-टीईटी तक की बड़ी खबर एक्सपोज इण्डिया से, पहली बार किसी चैनल ने सच दिखाने की हिम्मत की

कई सालों से अनदेखी किये जाने को लेकर बीएड और टीईटी पास अभ्यर्थी दर-दर की ठोकरें खा रहे हैं। सुप्रीम कोर्ट के आदेश की प्रति लेकर पूर्व सरकार में शांतिपूर्ण तरीके से प्रदर्शन करना भी इन प्रशिक्षित शिक्षकों को महंगा पड़ गया।
सालों से अनदेखी किये जाने के बाद पूर्व की समाजवादी सरकार और उससे पहले की सरकारों ने सिवाय इन्हें झूठे आश्वासन के कुछ नहीं किया और कभी इन्होंने अपना हक मांगने की कोशिश की तो इन्हें खानी पड़ी लाठियां। हैरान करने वाली बात यह है कि सरकार के प्राथमिक स्कूलों में शिक्षा मित्रों को तरजीह दी जा रही है जिनका स्तर बेहद दोयम दर्जे का है। शिक्षा मित्रों का हाल ये है कि अम्बेडकर जयंती पर ये सुभाष चंद्र बोस की फोटो का माल्यार्पण करते हैं और किसी तरह फोटो सही लगा दी गई तो फिर नाम की स्पेलिंग ही गलत होती है। अब ऐसे में दोयम दर्जे के शिक्षकों से बच्चों को उच्च शिक्षा देने की बात तो अपने आप में बेमानी ही लगती है।


sponsored links:
ख़बरें अब तक - 72825 प्रशिक्षु शिक्षकों की भर्ती - Today's Headlines
Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...

No comments :

Post a Comment

शिक्षक भर्ती परीक्षा हेतु पाठ्यक्रम व विषयवार नोट्स